ALL लेख आंदोलन रिपोर्ट विज्ञप्ति कविता/गीत संपादकीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन
बिहार में जिला मुख्यालयों पर किसान महासभा का धरना प्रदर्शन
November 14, 2019 • Delhi • आंदोलन

औरंगाबाद

बक्सर

सासाराम

अरवल

पटना

बिहार में जिला मुख्यालयों पर किसान महासभा का धरना प्रदर्शन

अखिल भारतीय किसान महासभा के बैनर तले आज बिहार के हजारों किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में सभी जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कारियों का नेतृत्व करने वाले में किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड राजा राम सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कामरेड शिव सागर शर्मा, राज्याध्यक्ष कामरेड बिशेश्वर प्रसाद यादव, राज्य सचिव कामरेड राम आधार सिंह, सह सचिव कामरेड उमेश सिंह, पूर्व विधायक अरुण सिंह, कार्यालय सचिव कामरेड राजेन्द्र पटेल आदि प्रमुख थे।

किसान सोन नहर प्रणाली का पुनरुद्धार करने, कडवन डैम का निर्माण, बाढ़ व सुखाड़ से प्रभावित क्षेत्रों की सुरक्षा व सहायता देने की मांग कर रहे थे। इसके साथ ही आंदोलनकारी किसानों ने किसानों और ग्रामीण मजदूरों की समस्त कर्ज माफी और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के आधार पर उपज की लागत का डेढ़ गुना दाम की मांग को भी प्रमुखता दी।

संगठन के महासचिव कामरेड राजा राम सिंह ने बिहार की नितीश सरकार और केंद्र की मोदी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि बिहार के तबाह किसानों की मांगें अगर तत्काल नहीं मानी गई तो उन्हें जुझारू किसान आंदोलन का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि 29-30 नवम्बर को देश के 250 किसान संगठनों के सयुंक्त मंच ए आई के एस सी सी का दो दिवसीय राष्ट्रीय कन्वेंशन दिल्ली में होने जा रहा है, इसमें राष्ट्रव्यापी किसान आंदोलन की रूपरेखा तय की जाएगी। बिहार के किसानों को इस संघर्ष की अगली कतार में खड़ा होना है।