ALL लेख आंदोलन रिपोर्ट विज्ञप्ति कविता/गीत संपादकीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन
पलवल में पीड़ित गन्ना किसानों के साथ किसान महासभा
January 24, 2020 • Delhi • रिपोर्ट

पलवल में पीड़ित गन्ना किसानों के साथ किसान महासभा

चौधरी रामबल

दिनाक 23 जनवरी 2020 को पलवल सहकारी चीनी मिल लिमिटेड में अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रेम सिंह गहलावत ने गन्ना किसानों के बीच मे पहुंच कर उनकी समस्याओं को बारीकी से सुना,जिसमे पलवल जिले के आस-पास के काफी किसानों ने अपनी समस्या रखी,उनमे मुख्यरूप से,जिले सिंह,धर्मपाल,मुकेश,बलराम,कर्मबीर,सुरेश,गंगाराम,देवेंद्र,सुरेंदर,लखन,रोहताश,चन्दरवीर,नरेश कुमार,सुरजीत सिंह,विजय सिंह,उधम सिंह, संयवीर,मनोज कुमार, गिरिराज,मुकेशकुमार,रामबल, सतबीर,नरबीर,आदि किसान,साथी मौजूद रहे।सभी किसानों की बातचीत के बाद तय हुआ कि आज ही चीनी मिल के एमडी डॉ नरेश कुमार से मिलकर गन्ने किसानों की पांच मांगों को लेकर ज्ञापन सोंपा जाए,किसानों की मौजूदगी में ही मिल के एमडी से फोन पर समय लेकर मुलाकात का समय तय करके,9 गन्ना किसानों के प्रतिनिधि मंडल के साथ,एमडी, डॉ नरेश कुमार को ज्ञापन दिया गया,जिसमे मुख्य मांग इस प्रकार रही :-1नंबर,10 अप्रैल 2020 तक सभी किसानों के गन्ने की पिराई पूरी हो जाए,नम्बर,2 मिल में हुए घोटाले की जांच जल्द से जल्द पूरी की जाए,नम्बर,3,गन्ने का भुगतान समय पर होना चाहिए,नंबर,4,गन्ने का भाव 400/-रुपया प्रति किवंटल दिया जाए,नंबर,5,पूरे जिले के सभी किसानों का पूरा गन्ना समय पर उठाया जाए,आज के दिन यही केवल पांच मांगों का ज्ञापन दिया,जिस पर एमडी ने चार मांगों को लेकर पूरा आश्वासन दिया सिर्फ एक मांग को लेकर बताया कि मिल देरी से चलने के कारण,मिल मई माह तक भी चलाई जा सकती है,फिर भी उन्होंने बताया कि अगर मिल की छमता बढ़ गई तो शायद यह मांग भी पूरी हो सकती है,इस पर सभी  किसान खुश नजर आए,बाद में सभी किसानों ने तय किया कि  एक बड़ी बैठक कर बाकी फसलों पर भी विस्तार से चर्चा कर कर्षि मंत्री से मिलेंगे।