ALL लेख आंदोलन रिपोर्ट विज्ञप्ति कविता/गीत संपादकीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन
योगी राज है या माफिया राज
June 14, 2020 • Delhi • रिपोर्ट

योगी राज है या माफिया राज

पुरुषोत्तम शर्मा

भाजपा राज में खनन माफियाओं के खिलाफ शिकायतें करना गम्भीर अपराध है। उत्तर प्रदेश हो या उत्तराखण्ड या बिहार हो। खनन माफिया के खिलाफ आवाज उठाना सबसे बड़ा खतरा मोल लेना है। माफियाओं का हमला और प्रशासन द्वारा मुकदमे की कार्यवाही को झेलने के लिए तैयार हों तो इन माफियाओं के खिलाफ शिकायत करें।

खनन माफिया के खिलाफ ज्ञापन देने वाले उत्तर प्रदेश के पलिया ब्लाक में अखिल भारतीय किसान महासभा के नेताओं को जेल भेज दिया गया है? क्षेत्र में खनन माफिया से पीड़ित लोगों का ज्ञापन लेकर जब अखिल भारतीय किसान महासभा के राज्य कार्यकारिणी सदस्य और क्षेत्र के लोकप्रिय किसान नेता कमलेश राय स्थानीय उपजिलाधिकारी को ज्ञापन देने गए तो उपजिलाधिकारी ने माफिया के खिलाफ कार्यवाही करने के बजाय किसान महासभा के प्रतिनिधि मंडल के में शामिल कामरेड कमलेश राय सहित 6 लोगों को ही जेल भेज दिया।

अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय सचिव पुरुषोत्तम शर्मा ने गिरफ्तार किसान महासभा के नेता कामरेड कमलेश राय और उनके साथियों की तुरंत रिहाई की मांग की है।

उन्होंने खनन माफिया को सरंक्षण देने वाले लखीमपुर खीरी की एसडीएम पलिया और उनके संरक्षण में पल रहे खनन माफिया के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है।